Hindi English Marathi Gujarati Punjabi Urdu
Hindi English Marathi Gujarati Punjabi Urdu

Ukraine-Russia War : यूक्रेन में 18 से 60 साल के पुरुषों के देश छोड़ने पर लगा प्रतिबंध

लखनऊ/यूक्रेन

- Advertisement -

यूक्रेन (Ukraine) पर रूस (Russia) के गुरुवार को हमले के बाद यूक्रेन सरकार (Ukraine Government) ने 18 से 60 वर्ष की आयु के बीच के सभी यूक्रेनी पुरुषों को लेकर एक बड़ा फैसला लिया है। सरकार ने सभी 18 से 60 वर्ष की आयु के यूक्रेनी पुरुषों के देश छोड़ने पर प्रतिबंध लगा दिया है। कहा जा रहा है कि यह फैसला इसलिए लिया गया है ताकि सभी पुरुष देश की रक्षा के लिए उपलब्ध रहें। यह नियम मार्शल लॉ (Marshal Law) की अवधि के लिए लागू होगा। बता दें कि मार्शल लॉ लगाने का अर्थ है कि नागरिक नेताओं के बजाय सैन्य अधिकारियों और सैनिकों पर राष्ट्र के कानूनों को तय करने और लागू करने का दारोमदार है। मार्शल लॉ के उल्लंघन में पकड़ा गया कोई भी व्यक्ति सैन्य न्यायाधिकरणों के अनुरूप दंडित किया जाएगा।

आपको बता दें कि यूक्रेन के रक्षा मंत्री ओलेक्सी रेज़निकोव (Defense Minister Oleksiy Reznikov) ने सेना में भर्ती होने के लिए यूक्रेनी पासपोर्ट वाले हर व्यक्ति को बुलाया है। उन्होंने अपने नागरिकों से कहा है कि दुश्मन हमला कर रहा है, लेकिन हमारी सेना अजेय है। यूक्रेन पूरी तरह से रक्षा मोड में जा रहा है। रूसी आक्रमणकारियों के खिलाफ यूक्रेनी सेना की रक्षात्मक क्षमता अब सामने आने लगी है। वहीं यूक्रेनी राष्ट्रपति (President) ने आगे आने और लड़ने के लिए तैयार यूक्रेनी नागरिकों (Ukrainian Citizens) का आह्वान किया है, और जो भी चाहे उनके लिए हथियार का वादा किया है। इसके साथ ही बाहरी देशों में रह रहे यूक्रेनी युवक अपने देश के लिए लड़ने के लिए यूक्रेन लौट रहे हैं।

वहीं डोनबास (Donbass) में लगभग 300,000 पूर्व सैनिकों ने भी लड़ते रहने की शपथ ली है। यूक्रेन में रह रहे भारतीय युवाओं सहित कई विदेशी नागरिक भी रक्षा बलों में शामिल हो गए हैं।

विज्ञापन बॉक्स (विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें)

इसे भी पढे ----

वोट जरूर करें

क्या आपको लगता है कि बॉलीवुड ड्रग्स केस में और भी कई बड़े सितारों के नाम सामने आएंगे?

View Results

Loading ... Loading ...

आज का राशिफल देखें