Hindi English Marathi Gujarati Punjabi Urdu
Hindi English Marathi Gujarati Punjabi Urdu

चुनावों के लिए खर्च सीमा तय, चाय-नाश्ते से लेकर फूलों की माला तक का देना होगा हिसाब

विधानसभा चुनाव- चुनावों के लिए खर्च सीमा तय, चाय-नाश्ते से लेकर फूलों की माला तक का देना होगा हिसाब

- Advertisement -

उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव इन दिनों काफी चर्चा में हैं। सभी राजनितिक पार्टियां चुनावों में अपनी पूरी ताकत झोकनें में लगी हुईं हैं। सभी राजनितिक दलों ने अपने अपने प्रत्याशियों की लिस्ट सार्वजनिक रूप से साझा कर ली हैं। आमतौर पर चुनावों में राजनितिक पार्टियां प्रचार प्रसार में निर्धारित लक्ष्य से ज़्यादा रूपये खर्च देती है जिसको देखते हुए चुनाव आयोग ने अलग अलग कामों में खर्च होने वाली राशि की सीमा तय कर ली है। आगामी विधानसभा चुनावों के लिए खर्च की सीमा 28 लाख रुपये से बढ़ाकर 40 लाख रुपये कर दी गयी है। चुनाव आयोग ने खर्च सीमा डिजिटल और सोशल मीडिया पर होने वाले प्रचार अभियान के अतिरिक्त खर्च को ध्यान में रखते हुए बढ़ाई है। चुनाव आयोग की ओर से मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने यह सूची जारी की है। समय, स्थान और स्थिति के मुताबिक हर चुनाव में ये खर्च सूची जारी होती है। अब उत्तर प्रदेश में जारी चार्ट के मुताबिक ही उम्मीदवार चुनाव में आने वाले खर्च का ब्योरा देंगे । उम्मीदवारों द्वारा हो रहे खर्चों पर नज़र राखी जाएगी। नज़र रखने के लिए उड़न दस्ते भी सक्रिय हो गए हैं।

उम्मीदवारों के नाश्ता, चाय, वाहनों के पेट्रोल से लेकर माला तक की खर्च सीमा निर्धारित की गयी है। चार्ट के मुताबिक, एक उम्मीदवार नाश्ते के लिए 37 रुपये प्रति प्लेट और एक कप चाय के लिए 6-6 रुपये तक खर्च कर सकता है। इसी तरह फूलों की माला के लिए भी दर तय की गयी है। मिनरल वाटर की बोतलें एमआरपी यानी प्रिंट रेट पर खरीदी जा सकती हैं।  चुनाव प्रचार के दौरान इस्तेमाल में आने वाली गाड़ियों में लगने वाले ईधन, टोल जैसे खर्चों का पाई पाई का हिसाब देना होगा। बीएमडब्ल्यू और मर्सिडीज जैसी लग्जरी कारों का किराया 21,000 रुपये प्रति दिन किराए पर लिया जा सकता है।

इसके अलावा इनोवा, फॉर्च्यूनर, क्वालिस जैसी एसयूवी कारों का किराया 2,310 रुपये प्रति दिन, स्कॉर्पियो और टवेरा के लिए 1,890 रुपये प्रति दिन जबकि जीप, बोलेरो और सूमो के लिए 1,260 रुपये प्रति दिन तक किराया तय किया गया है। इस धनराशि में ईंधन और लागत सभी शामिल है।

चुनाव प्रचार में इस्तेमाल होने वाले लाउडस्पीकर का किराया 1900 रुपये प्रति दिन के हिसाब से प्रत्याशी के खर्च में जोड़ा जाएगा। होटल में रुकने के लिए कमरे का किराया 1100 से 1800 रुपये तक होगा। जेनरेटर का खर्च, ट्यूबलाइट, कोल्डड्रिंक, आदि की खर्च सीमा निर्धारित की गयी है।

विज्ञापन बॉक्स (विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें)

इसे भी पढे ----

वोट जरूर करें

क्या आपको लगता है कि बॉलीवुड ड्रग्स केस में और भी कई बड़े सितारों के नाम सामने आएंगे?

View Results

Loading ... Loading ...

आज का राशिफल देखें