Hindi English Marathi Gujarati Punjabi Urdu
Hindi English Marathi Gujarati Punjabi Urdu

स्वतंत्र देव सिंह बने मंत्री , जाने कौन है स्वतंत्र देव सिंह

Lucknow : यूपी में 25 मार्च को नए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) पद की शपथ लें चुके है। उत्तर प्रदेश में सरकार में मंत्री बनाए गए स्वतंत्र देव सिंह (Swatantra Dev Singh) के बाद अब भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) के प्रदेश अध्यक्ष को लेकर काफी तेज चर्चाएं हो रही हैं। स्वतंत्र देव सिंह (Swatantra Dev Singh) मौजूदा वक्त उत्तर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष हैं। स्वतंत्र देव सिंह (Swatantra Dev Singh) के नेतृत्व में यूपी विधानसभा चुनाव 2022 लड़ा गया था। और भाजपा ने 255 सीटें जीती। सियासी (Political) गलियारों में काफ़ी चर्चा हो रही है कि पार्टी मथुरा विधायक श्रीकांत शर्मा (Shrikant Sharma) को यह जिम्मेदारी सौंप सकती है। बता दें कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) की पिछली सरकार में ऊर्जा मंत्री (Energy minister) रहे शर्मा को इस बार मंत्रिमंडल में शामिल नहीं किया गया है।

- Advertisement -

आइए जानते है स्वतंत्र देव सिंह का सियासी सफर जानें

1986- आरएसएस प्रचारक
1988-89- अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद में संगठन मंत्री
1991- भारतीय जनता युवा मोर्चा कानपुर प्रभारी
1994- बुन्देलखण्ड युवा मोर्चा प्रभारी
1996- युवा मोर्चा महामंत्री
1998- भाजपा युवा मोर्चा महामंत्री
2001- भाजपा युवा मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष
2004- विधान परिषद सदस्य चुने गए
2004-2017- तीन बार महामंत्री, एक बार उपाध्यक्ष

मीडिया रिपोर्ट्स (Media reports) के मुताबिक, स्वतंत्र देव सिंह के मंत्री पद की शपथ लेने के बाद प्रदेश प्रमुख को लेकर अटकलों का दौर शुरू हो गया है। बताया जा रह हैं कि शर्मा को यूपी भाजपा की कमान मिल सकती है। इसके अलावा खबर है कि सतीश महाना (Satish Mahana) को यूपी विधानसभा का नया स्पीकर (Speaker) बनाया जा सकता है। 8 बार के विधायक रहे महाना को भी इस बार कैबिनेट (Cabinet) में मौका नहीं मिला है।

सीएम योगी ने ली शपथ

बता दें कि शुक्रवार को लखनऊ स्थित अटल बिहारी वाजपेयी इकाना क्रिकेट स्टेडियम (Atal Bihari Vajpayee Ekana Cricket Stadium in Lucknow) में योगी आदित्यनाथ ने दोबारा सीएम पद की शपथ ली है। इस दौरान कार्यक्रम स्थल पर 50 हजार से भी ज्यादा लोग मौजूद रहे। वहीं कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, केंद्रीय मंत्री अमित शाह समेत कई बड़े चेहरे मौजूद रहे। बता दें कि भाजपा शासित राज्यों के सीएम भी कार्यक्रम में शामिल हुए।

किन बड़े चेहरों को नहीं मिली जगह

आपको बता दें कि योगी 2.0 में पूर्व उप-मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा, पूर्व मंत्रियों सिद्धार्थ नाथ सिंह, जय प्रताप सिंह, नीलकंठ तिवारी, जय प्रकाश निषाद और जय कुमार सिंह को जगह नहीं मिली। साथ ही मौका हासिल करने में असफल रहे नेताओं में विधायक अशुतोष टंडन का नाम भी शामिल है। सबसे बड़ी बात यह है कि पार्टी ने सिराथू सीट से हारने वाले केशव प्रसाद मौर्य को दाबारा डिप्टी सीएम बनाया है।

रिपोर्ट – पलक त्रिवेदी

विज्ञापन बॉक्स (विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें)

इसे भी पढे ----

वोट जरूर करें

क्या आपको लगता है कि बॉलीवुड ड्रग्स केस में और भी कई बड़े सितारों के नाम सामने आएंगे?

View Results

Loading ... Loading ...

आज का राशिफल देखें