Hindi English Marathi Gujarati Punjabi Urdu
Hindi English Marathi Gujarati Punjabi Urdu

ब्लैकमेलिंग मामले में उल्लू डिजिटल प्राइवेट लिमिटेड की लीगल एडवाइज़र गिरफ्तार

लखनऊ : उल्लू डिजिटल प्राइवेट लिमिटेड के सीईओ व कार्यकारी निदेशक को ब्लैकमेल कर 15 लाख रुपये वसूलने की आरोपी को साइबर क्राइम थाने की टीम ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी इसी कंपनी की लीगल एडवाइजर हिना जाबिर बेग है। हिना को लखनऊ लाकर शुक्रवार को कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया गया। उसने ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज हो चुकी वेब सिरीज में आपत्तिजनक सामग्री होने का आरोप लगाकर मुकदमेबाजी में फंसाने की धमकी देकर अपनी ही कंपनी के सीईओ व कार्यकारी निदेशक को ई-मेल भेजकर ब्लैकमेलिंग की थी।

- Advertisement -

ई-मेल भेजकर दोबारा की 40 लाख रुपये की मांग

उल्लू डिजिटल प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के कार्यकारी निदेशक शोभित सिंह ने 10 जून 2021 को लखनऊ के साइबर क्राइम थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। उन्होंने बताया था कि किसी ने ई-मेल भेजकर उन्हें धमकी देकर 15 लाख रुपये वसूल लिए हैं। अब दोबारा ई-मेल भेजकर 40 लाख रुपये की मांग की गई है। साइबर क्राइम थाने के इंस्पेक्टर मुस्लिम खां ने छानबीन की तो पता चला कि जिस आईडी से ई-मेल किए गए वो कंपनी के मुंबई स्थित कार्यालय में कार्यरत लीगल एडवाइजर हिना जाबिर बेग इस्तेमाल करती है।

मुंबई से किया गिरफ्तार

मुंबई की गणेश दर्शन बिल्डिंग, अंधेरी वेस्ट, वर्सोवा की रहने वाली हिना ने अपने मंगेतर अहमान रहमान निवासी शक्ति मोहल्ला, रुड़की, उत्तराखंड की मदद से ये ब्लैकमेलिंग की थी। इंस्पेक्टर मुस्लिम खां ने बताया कि मुकदमे की धाराओं में सात वर्ष से कम सजा होने के चलते दोनों आरोपियों की गिरफ्तारी न करके कोर्ट में हाजिर होने का नोटिस जारी किया था। कोर्ट में हाजिर न होने पर सीजेएम ने गैर जमानती वारंट जारी किया था। इस पर पुलिस टीम ने मुंबई के वर्सोवा स्थित घर से हिना को गिरफ्तार करके लखनऊ लाकर शनिवार को सीजेएम कोर्ट में पेश किया। जहां से हिना को जेल भेजा गया है।

विज्ञापन बॉक्स (विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें)

इसे भी पढे ----

वोट जरूर करें

क्या आपको लगता है कि बॉलीवुड ड्रग्स केस में और भी कई बड़े सितारों के नाम सामने आएंगे?

View Results

Loading ... Loading ...

आज का राशिफल देखें