Hindi English Marathi Gujarati Punjabi Urdu
Hindi English Marathi Gujarati Punjabi Urdu

चीन के लिए अब और मुश्किल खड़ी करेगा भारत, तवांग में लगाए जाएंगे 23 नए टावर

चीनी सैनिकों के साथ हुई हिंसक झड़प के बाद अब भारत सरकार ने ड्रैगन को पेच कसने शुरू कर दिए हैं। चीन के लिए भारत अब सीमा पर कई तरह की मुश्किलें खड़ी करने जा रहा है। एलएसी पर बेहतर कनेक्टिविटी के लिए सरकार 23 नए मोबाइल टावर लगाने जा रही है। तवांग जिले के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, यह फैसला नौ दिसंबर को यांग्त्से में भारत-चीन सैनिकों के संघर्ष के बाद लिया गया है।

- Advertisement -

 

 

तवांग के उपायुक्त केएन दामो ने कहा कि सरकार के फैसले के मुताबिक, बीएसएनएल और भारती एयरटेल तवांग में कनेक्टिविटी में सुधार के लिए 23 नए मोबाइल टावर लगाएंगे।

 

इस क्षेत्र में मौजूदा मोबाइल टावर अभी जरूरत के मुताबिक सुविधाएं नहीं दे पा रहे हैं। इससे रक्षा बलों के साथ ही सीमावर्ती इलाकों में रहने वाले आम नागरिकों को भी परेशानी हो रही है।

 

पहले सीमावर्ती इलाकों में मोबाइल नेटवर्क नहीं था

ऐसे में सरकार की ओर से यह फैसला लिया गया है। अधिकारी ने बताया, पहले सीमावर्ती इलाकों में मोबाइल नेटवर्क नहीं था, लेकिन अब स्थिति बदल गई है और बुम-ला और वाई-जंक्शन पर भी इंटरनेट सेवा और मोबाइल कनेक्टिविटी मौजूद है। हालांकि, इसमें सुधार की जरूरत है।

 

43 में से अभी 23 टावर की है तैयारी

तवांग जिला प्रशासन की ओर से 43 नए टावर की मांग की गई थी। हालांकि, 23 नए टावर लगाने के लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। उन्होंने कहा, सर्दियों में मोबाइल टावर स्थापित करना एक चुनौती होगी, क्योंकि पहाड़ी इलाकों में हिमपात हो रहा है।

विज्ञापन बॉक्स (विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें)

इसे भी पढे ----

वोट जरूर करें

क्या आपको लगता है कि बॉलीवुड ड्रग्स केस में और भी कई बड़े सितारों के नाम सामने आएंगे?

View Results

Loading ... Loading ...

आज का राशिफल देखें 

[avatar]