Hindi English Marathi Gujarati Punjabi Urdu
Hindi English Marathi Gujarati Punjabi Urdu

Delhi: MCD स्टैंडिंग कमेटी इलेक्शन में हंगामा, हाथापाई, बोतलों की बौछार और रातभर तकरार….!

सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) के आदेश के बाद दिल्ली नगर निगम (MCD) को उसका मेयर और डिप्टी मेयर आसानी से मिल गया। आम आदमी पार्टी (AAP) ने बिना किसी परेशानी के एमसीडी के दोनों अहम पदों पर क़ब्ज़ा कर लिया है। एमसीडी सदन की बैठक के पहले सत्र में मेयर चुनाव जितनी शांति से हुआ, वहीं दूसरे सत्र में अराजकता की सारी सीमाएं पार हो गईं।

- Advertisement -

 

दरअसल, असली जंग अब शुरू हुई है, जो सदन के अंदर देखने को मिली। दोनों तरफ़ से हंगामा और हाथापाई, पानी की बोतलों से एक-दूसरों पर वार हुआ। यह सब कुछ रात भर एमसीडी के सदन में देखने को मिला है।

 

दोनों ही दलों यानी आम आदमी पार्टी और बीजेपी की तरफ से एमसीडी में रातभर जो ड्रामा चला है उसे लेकरर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर कई वीडियो शेयर किए गए हैं। एमसीडी के लोकतंत्र में ऐसी घटनाएं पहले कभी नहीं हुई थीं।

क्या है पूरा मामला? 

जानकारी के अनुसार,  यह पूरी लड़ाई स्टैंडिंग कमेटी (स्थायी समिति) पर अधिकार को लेकर है। सदन में अब स्टैंडिंग कमेटी के छह सदस्यों का चुनाव होना हैं, जिनमें से तीन ‘आप’ और दो भाजपा के सदस्य जीतने तय हैं, यानी सारी लड़ाई छठे सदस्य को लेकर हो रही है। दिल्ली नगर निगम (एमसीडी) की स्थायी समिति के छह सदस्यों का चुनाव बुधवार को सदन में भारी शोर-शराबे के कारण नहीं हो पाया था।

एमसीडी में स्टैंडिंग कमेटी बेहद ताकतवर मानी जाती है और वित्तीय फ़ैसले लेने के प्रस्ताव पारित करने का अधिकार उसी के पास होता है.। इस स्टैंडिंग कमेटी पर अपना अधिकार करने के लिए दिल्ली की सत्तारूढ़ पार्टी और भाजपा में जंग छिड़ी हुई है।

यह भी जान लें

  • स्टैंडिंग कमेटी में कुल 18 सदस्य होते हैं।
  • 12 सदस्य अलग-अलग जोन में चुने जाएंगे।
  • 6 सदस्य यहीं एमसीडी के हाउस में चुने जाएंगे।
  • 6 सदस्यों के चुनाव को लेकर हंगामा हुआ है।

विज्ञापन बॉक्स (विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें)

इसे भी पढे ----

वोट जरूर करें

क्या आपको लगता है कि बॉलीवुड ड्रग्स केस में और भी कई बड़े सितारों के नाम सामने आएंगे?

View Results

Loading ... Loading ...

आज का राशिफल देखें