Hindi English Marathi Gujarati Punjabi Urdu
Hindi English Marathi Gujarati Punjabi Urdu

Water Vision@2047: पीएम मोदी ने जल संरक्षण के लिए दिए मंत्र !

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने गुरुवार को जल संरक्षण के अभियानों में लोगों की भागीदारी के महत्व को रेखांकित करते हुए कहा है कि, यह अकेले सरकार के प्रयासों से कुछ नहीं हो सकता है। इस सिलसिले में ‘जल विजन 2047’ विषय पर पीएम मोदी ने जल संरक्षण को लेकर कई मंत्र दिये हैं।

- Advertisement -

आपको बता दें कि, ‘जल विजन 2047’ विषय पर आज 5 जनवरी से दो दिवसीय प्रथम अखिल भारतीय राज्य मंत्री वार्षिक सम्मेलन का आयोजन मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में किया गया है। इस मौके पर देश के पीएम ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सम्मेलन को संबोधित किया है।

PM ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सम्मेलन को किया संबोधित 

इसके साथ ही उन्होंने ये भी कहा है कि, आज भारत जल सुरक्षा में अभूतपूर्ण काम कर रहा है और अभूतपूर्ण निवेश भी कर रहा है। जल संरक्षण के लिए राज्यों के प्रयास देश के सामूहिक लक्ष्यों को प्राप्त करने में बहुत सहायक होंगे। पीएम मोदी ने कहा- मनरेगा के तहत पानी पर अधिक से अधिक काम किया जाना चाहिए।

मुख्य बिंदु

  • जल संरक्षण के लिए जन भागीदारी की सोच को जनता के मन में जगाना है।
  • इस दिशा में जितना ज्यादा प्रयास करेंगे उतना ही अधिक प्रभाव पैदा होगा।
  • देश हर जिले में 75 अमृत सरोवर बना रहा है और अब तक 25,000 अमृत सरोवर बन भी चुके हैं।
  • पीएम मोदी ने कहा कि Water vision 2047 अगले 25 वर्षों के अमृत यात्रा का महत्वपूर्ण आयाम है।
  • भोपाल में जल से जुड़े विषय पर राज्यों के मंत्रियों के पहले अखिल भारतीय वार्षिक सम्मेलन का आयोजन किया है।
  • मोदी ने कहा, ‘‘जब किसी अभियान से जनता जुड़ती है तो उसे उसकी गंभीरता का भी पता चलता है।”
  • जल शक्ति मंत्रालय के अनुसार, सम्मेलन का विषय ‘वॉटर विज़न@2047′ है।

विज्ञापन बॉक्स (विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें)

इसे भी पढे ----

वोट जरूर करें

क्या आपको लगता है कि बॉलीवुड ड्रग्स केस में और भी कई बड़े सितारों के नाम सामने आएंगे?

View Results

Loading ... Loading ...

आज का राशिफल देखें 

[avatar]