Hindi English Marathi Gujarati Punjabi Urdu
Hindi English Marathi Gujarati Punjabi Urdu

सनातन धर्म विवाद पर यूपी के सीएम योगी की एंट्री, ईश्वर को मिटाने वाले मिट गए !

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने सनातन धर्म पर की गई विवादित टप्पडी पर हमलावर रुख अपनाते हुए पूरे विपक्ष को घेरा है। उन्होंने बिना नाम लिए तमिलनाडु के मंत्री उदयनिधि स्टालिन और I.N.D.I.A. गठबंधन को आड़े हाथों लिया। सीएम योगी गुरूवार को श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के अवसर पर पुलिस लाइन में आयोजित एक सांस्कृतिक कार्यक्रम में पहुंचे थे। जहां उन्होंने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि सनातन धर्म सत्ता परजीवियों से नहीं मिलने वाला। सीएम योगी ने रावण, बाबर, औरंगजेब से कंस तक का उदाहरण देते हुए कहा कि सनातन को कोई नहीं मिटा सकता। उन्होंने सनातन पर हमले को मानवता को संकट में डालने का प्रयास बताया।

- Advertisement -

सनातन धर्म को कोई क्या मिटा पाएगा- सीएम योगी।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा, जो सनातन नहीं मिटा था रावण के अहंकार से। जो सनातन नहीं डिगा था कंस की हुंकार से। जो सनातन नहीं मिटा था बाबर और औरंगजेब के अत्याचार से। उस सनातन धर्म को कोई क्या मिटा पाएगा। उन्होंने कहा कि सनातन धर्म पर उंगली उठाने का मतलब है मानवता को संकट में डालने का कुत्सित प्रयास करना। सीएम योगी ने सनातन धर्म को सूर्य की तरह ऊर्जा देने वाला बताया। उन्होंने कहा कि यदि कोई व्यक्ति सूर्य की तरफ थूकेगा तो उसे ये समझना चाहिए कि उसका थूक सूर्य तक नहीं पहुंचेगा। बल्कि थूक पलटकर उसके सर पर ही गिरेगा। साथ ही इस तरह के कार्य से उसकी आने वाली पीढ़ी को भी लज्जित होना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि हमें भारत की परंपरा पर गौरव की अनुभूति करनी चाहिए।

विपक्ष तुच्छ राजनीति करने का प्रयास कर रहा है।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने गुरूवार को एक कार्यक्रम में कहा कि ईश्वर को मिटाने वाले मिट गए। उन्होंने कहा कि जब देश सकारात्मक रूप से आगे बढ़ रहा है तो कुछ लोगों को अच्छा नहीं लग रहा है। विपक्ष तुच्छ राजनीति करने का प्रयास कर रहा है। सीएम योगी ने कहा कि हर काल में सत्य को झुठलाने का प्रयास हुआ है। ईश्वरीय सत्ता को चुनौती देने वाले आज क्या कर रहे हैं, उनकी स्थिति क्या है, सब कुछ मिट गया। कुछ नहीं बचा। जैसे सत्य है, शाश्वत है। वैसे ही सनातन धर्म भी सत्य और शाश्वत है।

योगी ने कहा कि इन्हे अपने कृत्यों पर लज्जित होना चाहिए। सनातन पर उंगली उठाने का मतलब है मानवता को संकट में डालने का प्रयास करना। सीएम योगी ने सभी प्रदेशवासियों को श्रीकृष्ण जन्माष्टमी की बधाई दी। उन्होंने कहा कि भगवान विष्णु के पूर्ण अवतार के रूप में श्रीकृष्ण का जन्म धर्म, सत्य और न्याय की स्थापना के लिए हुए था।

उदयानिधि स्टालिन के बयान से शुरू हुई बहस। 

आपको बता दें कि तमिलनाडु के मंत्री उदयानिधि स्टालिन के एक बयान से सनातन धर्म पर एक बहस शुरू हुई। एक सनातन उन्मूलन कार्यक्रम में उदयानिधि ने कहा कि सनातन का सिर्फ विरोध नहीं करना चाहिए, बल्कि समाप्त कर देना चाहिए। उन्होंने कहा कि सनातन धर्म सामजिक न्याय और समानता के खिलाफ है। सनातन की तुलना डेंगू, मलेरिया, कोरोना से करते हुए कहा कि इसका सिर्फ विरोध नहीं करना चाहिए। बल्कि इसे खत्म कर देना चाहिए। जिसके बाद से ही यह बयान विवादों में घिरा हुआ है। जहां विपक्ष के INDIA गठबंधन के नेता इस बयान से किनारा काटते नजर आये। वहीं बीजेपी के कई नेताओं ने इसपर अपनी तीखी प्रतिक्रिया दी है। साथ ही विपक्षी दलों और INDIA गठबंधन को इस बयान को लेकर आड़े हाथ लिया है।

 

 

विज्ञापन बॉक्स (विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें)

इसे भी पढे ----

वोट जरूर करें

क्या आपको लगता है कि बॉलीवुड ड्रग्स केस में और भी कई बड़े सितारों के नाम सामने आएंगे?

View Results

Loading ... Loading ...

आज का राशिफल देखें